176,536 views 388 on YTPak
213 25

Published on 08 Apr 2010 | over 6 years ago

गीत - अंखियों के झरोखों से मैंने देखा जो सांवरे - हेम लता
अंखियों के झरोखों से (१९७८)
कलारार - सचिन, रंजीता, मदन पुरी, राजेंद्र नाथ, इफ़्तेख़ार, उर्मिला
भट्ट, टुनटुन
निर्माता - तारा चन्द बडजात्या
निर्देशक - हीरेन नाग
संगीतकार - रविन्द्र जैन
गीतकार - रविन्द्र जैन
=============================================
१. अंखियों के झरोखों से मैंने देखा जो सांवरे १ - हेम लता
२. अंखियों के झरोखों से मैंने देखा जो सांवरे २ - हेम लता
३. अंखियों के झरोखों से मैंने देखा जो सांवरे ३ - हेम लता
४. बड़े बडाई ना करे बड़े ना बोले बोल - हेमलता व जसपाल सिंह (गीतकार - पारंपरिक)
५. कई दिन से मुझे कोई सपनो में आवाज़ देता था - हेमलता व शेलेन्द्र सिंह
६. एक दिन तुम बहुत बड़े बनोगे - हेमलता व शेलेन्द्र सिंह
७. जाते हुए यह पल छीन क्यों जीवन लिए जाते है - रविन्द्र जैन
by - arunkumarphulwaria

Loading related videos...